Aunty Ka Pyar (Hindi)

Sunday, 2 June 2013

सबसे पेहले में अपने बारे मे बताउ तो मेरी उम्र 26 हे और मेरे लद की साइज 7 हे और मोटाइ 3 इन्च है।  और मुजे लद्कीओ से ज्यादा औरत कि चुत ज्यादा अच्छी लगती है। क्युकि औरत कि चुत ज्यादातर बालो वाली होती है। मैने अकसर तस्वीरो मै बालो वाली चुत देखि है। मुजे वो देख के बालो वाली चुत चोदने का मन करता है। आपको मै अपनी सच्ची कहनी बताता हुं।
ऐक बार मै गांव मे दोस्त की शादी मे गया था। दोस्त की बारात मै जाना था वो मेरा सबसे अच्छा दोस्त था। उसकी इन्दीका गादी थी और 3 बस थी उसने मुजे उसके साथ बैठ्ने को कहा मगर उसकी बहन और जीजा की वजह से मैने उसे कहा की मैन बस में आउन्गा
2 बस बस जा चुकी थी इसी लीये 3 बस में सिर्फ़ 11 या 12  लोग  ही थे। उसमे 3 लेदीज़ थी उनमे 2 अपने पति के साथ बैठी थी। सभि लोग आगे की सिट पे बैठे हुए थे और मैं अकेला पीछे की सीट पे बैठा था। क्योकी म शादी मे थका हुआ था। और बारत को पहुंच ने मे 6 घंटे लग्ने वाले थे। शाम के 6:30 बजे थे। गांव का रास्ता खराब होने की वजह से बस धीमीधीमी  चल रही थी। देखते देखते अन्धेरा होने लगा था मुजे बस की आवज की वजह से नींद नही आ रही थी अचानक अकेली बेठी आन्टी ने मुजे बुलाया । मे आन्टी के पास गया मेने आन्टी से कहा क्या बात हे ? तो आन्टी बोली बेटा मुजे पेशाब करना है बस मे आन्टी से ज्यादा उम्र के लोग बेठे थे इसी लीये आन्टी ने मुजे बुलाया था। मेने द्राइवर के कान में कहा की बस रोको द्राइवर ने बस रोकी बस मे सभी सोये थे। आन्टी नीचे उतरी और बस के पीछे पेशाब करने के लीये बेठी पीछे अंधेरा  होने की वजह से आन्टी बस की लाल लाइट की रोशनी में ही बैठ गई। मे बस मे पीछे की और ही था आन्टी ने अपनी साडी उपर की और पेशाब  करने के लीये बैठ गई आन्टी ने साडी बैठ्ने के बाद साडी नीचे नही की और मुजे उनकी चुत बीलकुल साफ दिख्नने लगी वाउ दोस्तो क्या चुत थी आन्टी की ऊऊऊऊऊऊउफ्फ्प्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ मेरा लंड तो आन्टी कि चुत को सलामी देने लगा। आन्टी ने अपनी चुत के होंठ अपनी दो उन्गलीओ से खोले ओर पेशाब निकालने लगी क्या धार थी पेशाब की हाय बीलकुल सीधी ओर तेज सससससईईईईईईईईईसससस जब उनका पेशाब बन्ध हुआ तो आन्टी ने खडी हो कर अपनी पेन्टी निकाल दी और अपनी साडी में छुपा ली अब आन्टी बस मे चढ गई ओर बस चालु हुई। आन्टी बस मे आकर मुजसे बोली मे यहां तुम्हारे साथ बेठ जाउं में बोर हो रही हुं मेने आन्टी को हां कहा ओर बोला में भी बोर हो रहा था ।
आन्टी फोरन अपनी सीट पे से अपनी हेंड बेग लाई ओर मेरे साथ लास्ट वाली सीट पे बेठ गई अब वो अपनी पेन्टी चुप के से अपनी बेग मे रखने लगी मे चोर नजरो से वो देख रहा था। उन्होने पेन्टी रखने के बाद ईधर उधर की बाते करने लगी फीर उन्होने बताया की उनके पति सरकारी अफ्सर हे ओर ज्यादा बहार ही रहते हे मेने कहा आप मेनेज कर लेती हें ? तो उन्होने कहा हां मे तुम्हारे जेसे लोगो से बात करके वक्त निकाल देती हुं। मेने उनसे उनकी उम्र पुछी उन्होने 34 कहा लेकीन दोस्तो वो अभी भी जवान लग रही थी उनकि फीगर 32-28-34 लग रही थी। फिर आन्टी मुजसे बोली तुमने शादी कि ? मेने ह्स्ते हुए आन्टी से बोला नही की हे लेकीन मे अभी मे अपन करीयर बनाना चाह्ता हुं बाद मे कर लुन्गा आन्टी बोली गर्ल फ्रेंड हे ? मेने बोला पढाइ से टाइम नही मीलता। आन्टी बोली ठीक हे फीर मुजे नींद आने लगी मेने आन्टी से बोला मे थोदी देर सो जाता हुं ओर सोनेकी कोशिश करने लगा। लेकिन मेरी आंखो के सामने आन्टी की बालों वाली चुत नजर आने लगी मै आंखे बन्ध कर के सोने का नाटक करने लगा। थोडी देर के बाद आन्टी ने मेरी कोहनी को अपने मम्मे ट्च करने लगी मे फिर भी सोता रहा रास्ता खराब होने कि वजह से आन्टी को मजा आ रहा था मेरा लड भी अब खडा होने लगा था अब मेने अपने आप को सेट किया ओर अपने दोनो हाथ अपनी बगल मे डाल दीये 5 मिनिट के बाद मेने भी आन्टी के मम्मो पे अपनी उन्गली घुमाने लगा आन्टी भी सोने का नाटक कर रही थी ओर वो मेरी ओर खीसकती जा रही थी मेने हिम्मत कर के अब उनके मम्मो पर अपने हाथ रख दीये ओर उसे सेहलाने लगा करीब 10 मीनीट के बाद आन्टी ने मेरे कान मे आकर बोला नींद नही आ रही ? में चोंक गया ओर अपने आप को सीधा करने लगा। इतने मे आन्टी बोली कोइ बात नही ऐसे ही बैठे रहो मेरी जान मे जान आई मेने आन्टी को बोला तुम्हे मजा आ रहा हे ? आन्टी ने अपनी सेक्सी अदा से बोला अ अ अ ऊऊऊऊऊउ बहोत । मेने उनसे कहा अपना ब्लाउज़ नीकल दो।
आन्टी बोली लाइट बध करवा दो मेने तुरन्त खडे हो के ड्राइवर के पास जा कर लाइट बध करने को कहा ओर उसने लाइट बध कर दि । में अब वापस  अपनी सीट पे बेठ गया आन्टी ने अपने मम्मे बहार निकाले ओर मेरा हाथ अपने मम्मो पर रख दिये वाऊऊऊऊऊऊ क्या मम्मे थे उनके एकदम टाइट और रसीले ऊऊऊऊऊममममममम मेने मम्मो को ट्च करके हि उनका साइझ नाप लिया था अब मे उनके मम्मो को अपने हाथ से सेहला रहा था। आन्टी को भी मजा आ रहा था और मु से सीस्कीया निकाल रही थी ओर मुजे जोर से दबाने को बोल रही थि आन्टी की तडप देख के लग रहा था की वो लड के लीये तरसी थी आन्टी ने अपना हाथ  मेरे लड पे रखा ओर लड को उपर से ही सेहलाने लगी 3 मिनीट के बाद वो मुज्से बोली अपनि पेंट निकाल दो मेने मोके को देख के अपनी पैंट निकाल दि आन्टी ने मेरे लड को अपने हाथ मे लीया ओर उसे प्यार से सेहलाने लगी मे भी अब गरम होने लगा था मेरा लड अब अपने पुरे उफान पर था आन्टी मेरे लड को सेहलाते हुए बोली बेटा एसा लड मेने कभि भी नही लीया हे मेने आन्टी से बोला गभराओ मत मे तुम्हे आराम से चोदुंगा आन्टीने मुजे बोला मेने एसा लड कभी चुसा नहि मेने बोला अब चुस लो आन्टी ने झ्ट से मेरा लड झुक कर अपने मुमे ले लीया ओर चुसने लगी वाऊऊऊऊ क्या लड चुसती थि मानो जेसे लड चुस्ने मे वो माहीर हो मे जेसे स्वर्ग मे गुम रहा था। आन्टी लड को मु से अंदर बहार करने लगी इस्से कभी कभी फुक फुक फुस की आवाज आने लगी करीब 13 मिनीट के बाद मे झ्ड ने वाला था मेने आन्टी को बोला आन्टी ने मुजे बोला ये तुम्हारा पेहला फक हे इसी लीये ओर बोली मेरे मु मे ही नीकाल दो मे ने 2 मीनीट मे मेरा सारा माल उनके मुह मे निकाल दीया ओर आन्टि मेरा सारा माल पी गइ।
अब आन्टी ने मुजसे बोला बेटे अब तुम्हारी बारी मे खुश हो गया। मे झट से आन्टि के मम्मे को चुसने  लगा ओर 2 मिनीट के बाद आन्टी की साडी ऊपर करके आन्टी के पेर खोल्के आन्टी कि चुत को सुंघने लगा ऊऊऊउसससससस क्या खुशबु थी दोस्तो मेने आन्टी की चुत के बालो को अपनी जीभ से चाट्ने लगा और उनकि चुत को अपनी जीभ से खोलने लगा अभी भी आन्टी कि चुत से पेशाब की खुश्बु आ रही थी ओर पेशाब के नमकीन स्वाद को मे मजे से चाट रहा था। थोडी देर बाद मेने आन्टी के दाने को अपनी जिभ से हल्के से टच किया , आन्टी सीहुर उठी ऊऊऊऊउफ्फ्फ्सससस मेने दाने को जीभ से जोर से चाट ने लगा, आन्टी की चुत का नमकीन स्वाद मुजे ओर गरम करने लगा करिब 14 मीनीट चुत चट्ने के बाद आन्टीने अपना ढेर सारा पानी नीकाल दिया और मे सब रस चाट गया क्या पानी था चुत का
अब आन्टी ने मुजे कहा की मे तुम्हारा लड तैयार करती हुं और वो मेरे पेरो में बैठ के मेरे लड को चुस्ने लगी मेरा लड आन्टी के जीभ क स्पर्श पा कर जल्द हि टाइट हो गया फीर आन्टी ने मुजे बोला ये लड तो बहुत बडा है, धीरे से दाल्न मेने आन्टी से बोला तुम खुद ही लेलो तुमसे जीतन लीया जाये उत्नना लेलो आन्टी मुजे होठो पे किस करने लगि ओर बोली तुम कीतने अछे हो ओर बोला की मुजे तुम रोज चोदना और उनहोने मुजे कहा कि मे तुम्हारी गोदी में बैठ कर तुमसे चुदवाउनगी तुम बहोत प्यारे हो, मे ठीस से बैठ गया और वो अपनि साडी ऊपर करके अपनि चुत मेरे लड पे सेट करके वो मेरा लड उनकी चुत मे लेने लगी करीब 4 इन्च लेने के बाद उन्को तकलीफ होने लग़ी ओर वो खडी हो गइ ओर मेरे लड पे ढेर सारा थुंक लगाया और फिर से बेठ गई, ओर करीब 5 इंच लड ले लीया मेने भी उन्को तकलीफ ना हो ऐसे धीरे धीरे लड को अंदर बहार करने लगा करीब 4 मिनीट के बाद आन्टि ने मेरे लड को ओर अंदर चुत मे घुसाया और मेने उन्के मम्मे कि चुची को अपनी उन्गली से मसलने लगा। अब आन्टी ने मेरा पुरा लड अपनी चुत मे ले लीया ओर धीमेधीमे उपर नीचे होने लगी, आन्टी पीछे घुम कर मेरे होठो को चुमती ओर मुजे बोलति बेटे तुम्ने मुझे बहोत खुश किया है। ओर फिर से मुजे चुमती मे उन्के मम्मे को जोर से मसल रहा था ओर उनसे बोलता कि दर्द होता हे ओर वो फिर से मुजे कीस करती ओर बोलती नहि बेटे तुम मुजे बहोत प्यारे लग्ते हो तुम्हे मुजे जैसा चोदना हो एसे चोदो मे दर्द सहन कर लुंगी मुजे उनसे हमदर्दी होने लगी और मेने बोला आन्टी आप बहोत अच्छी हो तुमहे जेसे अच्छा ल्गे एसे मेरा लड लेती जाओ। आन्टी बहोत दीनो से लड की भुखी लग रही थी।
आन्टी की चुत भी अब खुलने लगी थी, अब आन्टी ने स्पीड बढाइ ओर जोर से मुजे चोद रही थि करीब 15 मीनीट के बाद आन्टी ने पानी नीकाल दीया ओर उन्होने मुजे जोर से चुम लीया ओर रो पडी मुजे बोल्ने लगी कास तुम मुजे रोज चोद्ते मेरे उनसे बोला अगर तुम मुजे जब भी बुलाओगि मे तुम्हे चोदूगा बस मुजे कोल कर देना , आन्टी ने बोला अब तुम मुजे जैसे चोदना हो ऐसे चोदो मेने फिर से कहा आन्टी मे जानवर नही हुं। मे तुमसे बहोत खुश हुं मेने पेहली बार तुम्हारी चुत मारि है उल्टा मे तुम्हारा शुक्र्गुजार हुं । अगर आप थक गई हो तो बेठ जाओ मगर आन्टी ने मुजे चुमा ओर बोला मे भी इतनी खुदगज नहि हुम जो तुम्हे एसे ही छोड दुं तुम अपना पानि निकाल दो मेने कहा ठीक हे ओर मे अपने काम पे लग गया ओर आन्टी को घोडि बना दिया अब आन्टी अपनी साडी निकाल के ख्डी हो गई ओर मेने अपनी स्पीड बढाई ओर तेजी से चोदने ल्गा करिब 10 मीनीट के बाद मे झड्ने वाला था तो आन्टी ने मुजे फिर से खडे हो के कीस किया ओर बोलि अंदर करोगे की मुमें लुं तो मेने कहा जो तुम्हे सहि लगे
आन्टी ने सीधे हो के नीचे बैठी ओर मेरे लड को चुसने लगी थोडी देर मे मेरा पानी नीकल गया ओर आन्टी ने मेरा पानी अपने मुंहमे ले लीया। ओर मुजे बोलि ठीक हो तुम मेन्रे आन्टी को अपनी बाहों मे लीया ओर उनको कीस करने ल्गा फिर आन्टी ने मुजे नन्गा हि उन्कि गोदी मे सुलाया ओर मेरे सर पे हाथ घुमाने लगी ओर मुज्से बोली के तुम कितने अछे हो ? अगर तुम्हारि जगह कोइ ओर होता तो मुजे बहोत जोर से चोदता ओर मेरी मर्जी के खीलाफ मेरि चुत का ओर मेरी मजबुरी क गलत इस्तेमाल करता उन्होने मुजे फिर से चुमा ओर बोला तुम ये बात कीसी से बोलोगे ? मेने आन्टी को बोला आन्टी मुजे तुम्हारी सब बात मालुम हो गई हे मे तुम्हारी मजबुरी समज चुका हु मे तुम्हारे साथ बीलकुल वफादार रहुंगा ये मेरा वादा हे।

0 comments:

Post a Comment

  © Marathi Sex stories The Beach by Marathi sex stories2013

Back to TOP